जोधपुर: किशोरी से दुष्कर्म पर जातीय पंचों का दबाव- 80 हजार लेकर मामला रफा-दफा करो

जोधपुर में एक नाबालिग बालिका का अपहरण कर उसके साथ दुष्कर्म का सनसनीखेज मामला सामने आया है. वारदात का खुलासा होने के बाद जातीय पंचों ने 80 हजार रुपए लेकर मामले को रफा-दफा करने का दबाव बनाना शुरू कर दिया.

Hillviewsamachar:Updated: May 1, 2019, 9:38 AM IST

जोधपुर में एक नाबालिग बालिका का अपहरण कर उसके साथ दुष्कर्मका सनसनीखेज मामला सामने आया है. मामले का दूसरा पहलू उससे भी ज्यादा भयावह है. वारदात का खुलासा होने के बाद जातीय पंचों ने बजाय पीड़ित परिवार का साथ देने के उन पर 80 हजार रुपए लेकरमामले को रफा-दफा करने का दबाव बनाना शुरू कर दिया. थक हारकर अब पीड़िता की मां एक एनजीओ की मदद से थाने पहुंची और दुष्कर्म के आरोपी तथा जातीय पंचों के खिलाफ मामला दर्ज कराया है.

जैसलमेर में किशोरी से सामूहिक दुष्कर्म, पीड़िता के परिजन गए हुए थे वोट देने

जानकारी के अनुसार वारदात जोधपुर के बोरानाड़ा थाना इलाके में गत 25 अप्रैल की रात की बताई जा रही है. दुष्कर्म की शिकार हुई पीड़िता की मां ने बताया कि उसकी बेटी को पाल गांव के समीप डोली में रहने वाले श्रवण और उसके दोस्त 25 अप्रैल की रात को घर से जबर्दस्ती उठाकर ले गए.  उसने अपने एक परिजन के साथ कई घंटों तक बालिका की खोजबीन की, लेकिन वह नहीं मिली. रात करीब 2 बजे आरोपी श्रवण पीड़िता को उसके घर छोड़कर चला गया. मां ने अपनी 16 वर्षीय बालिका से जब घटना के बारे में जानकारी ली तो उसने बताया कि श्रवण ने उसके साथ दुष्कर्म किया.

दौसा में 7 साल की बच्ची से रेप, टॉफी के बहाने उठा ले गया था रेपिस्ट

पंचों ने दी मामले को रफा-दफा करने हिदायत
इस पर पीड़िता की मां आरोपी के खिलाफ कार्रवाई की गुहार लेकर समाज के पंचों के पास पहुंची. लेकिन समाज के ठेकेदारों ने उल्टा पीड़िता की मां को 80 हजार रुपए लेकर मामले को रफा-दफा करने की सलाह दे डाली तो उसके पैरों तले से जमीन खिसक गई. वह नहीं मानी तो पंचों ने पीड़िता की मां के पिता पर समझौता करने का दबाव बनाया. लेकिन पीड़िता की मां ने आरोपियों को सजा दिलाने की ठान ली.

Image result for rape case

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *